संसद में पास हुआ एयरक्राफ्ट अमेंडमेंट बिल, कांग्रेस ने किया जोरदार विरोध


ताजा खबर पाने के लिए निचे लाइक बटन दबाये

MOI DESK : कोरोना वायरस के बीच संसद के मानसून सत्र का आज दूसरा दिन है. आज का दिन बेहद हंगामे भरा हो सकता है. भारत और चीन के बीच जारी गतिरोध के पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लोकसभा में दोपहर तीन बजे भाषण देंगे. रक्षा मंत्री का बयान इस मायने में अहम है.

क्योंकि विपक्ष ने इस मुद्दे पर बहस की मांग की है. राजनाथ सिंह ने हाल ही में रूस की राजधानी मॉस्को में चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंग से मुलाकात की थी. वहीं कांग्रेस ने पहले ही दिन काम रोको प्रस्ताव लाकर साफ संकेत दे दिया कि वह इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की पूरी कोशिश करेगी.

इन्हें जरुर पढ़े:~

एयरक्राफ्ट (अमेंडमेंट) बिल 2020 पर बहस

राज्यसभा में वायुयान संशोधन विधेयक पर बहस के दौरान एनसीपी सांसद प्रफुल पटेल ने कहा कि आने वाले समय में सिविल एविएशन में बहुत जरूरतें बढ़ने वाली हैं. ऐसे में एयरपोर्ट्स और एयरलाइन्स की जरूरते हैं. बहुत पहले मंजूर हुए एयरपोर्ट भी अभी अधूरे हैं.

एयर इंडिया है तो हिंदुस्तान हैः टीएमसी सांसद

वंदे भारत मिशन के तहत भारतीयों को स्वदेश लाने के लिए मैं सरकार का आभार व्यक्त करता हूं. यह सब किसने किया? एयर इंडिया ने. आप चाहें तो एयर इंडिया के ढांचे में परिवर्तन कर दें लेकिन इसे बेचिए नहीं. एयर इंडिया है तो हिंदुस्तान हैः टीएमसी सांसद दिनेश त्रिवेदी

अडानी ग्रुप को लेकर कांग्रेस का सवाल

कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने कहा कि अडानी ग्रुप को 6 एयरपोर्ट सौंप दिए गए हैं. एक अकेली प्राइवेट कंपनी को 6 एयरपोर्ट दे देना नियमों का उल्लंघन है. सरकार ने अपने ही मंत्रालयों और विभागों की सलाह नहीं मानी. नियमों में परिवर्तन करके अडानी ग्रुप को नीलामी में जिता दिया गया.

Source – Jagaran

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.
x