नवरात्र से पहले शुरू होगी चुनावी प्रक्रिया, दिवाली तक बन जाएगी नई सरकार; जानिए वोटिंग की पूरी डिटेल

बिहार चुनाव का बिगुल बज चुका है. बिहार में तीन चरण में चुनाव होगा. पहले चरण की वोटिंग 28 अक्टूबर, दूसरे चरण की वोटिंग 3 नवंबर और तीसरे चरण की वोटिंग 7 नवंबर को होगी. वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी. इस तरह इस बार बिहार चुनाव की प्रक्रिया नवरात्र के पहले शुरू होगी
 
नवरात्र से पहले शुरू होगी चुनावी प्रक्रिया, दिवाली तक बन जाएगी नई सरकार; जानिए वोटिंग की पूरी डिटेल

बिहार चुनाव का बिगुल बज चुका है. बिहार में तीन चरण में चुनाव होगा. पहले चरण की वोटिंग 28 अक्टूबर, दूसरे चरण की वोटिंग 3 नवंबर और तीसरे चरण की वोटिंग 7 नवंबर को होगी. वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी. इस तरह इस बार बिहार चुनाव की प्रक्रिया नवरात्र के पहले शुरू होगी और दिवाली से पहले वहां नई सरकार बन जाएगी.

पहला चरण : वोटिंग 28 अक्टूबर, 16 जिलों की 71 सीटों पर वोटिंग

नोटिफिकेशन : 1 अक्टूबर

नामांकन की अंतिम तारीख : 8 अक्टूबर
स्क्रूटनी- 9 अक्टूबर

नाम वापसी : 12 अक्टूबर तक

दूसरा चरण : वोटिंग 3 नवंबर . 17 जिलों की 94 विधानसभा सीटों पर वोटिंग

नोटिफिकेशन: 9 अक्टूबर

नामांकन की अंतिम तारीख: 16 अक्टूबर
स्क्रूटनी- 17 अक्टूबर

नाम वापसी : 19 अक्टूबर तक

तीसरे चरण : वोटिंग 7 नवंबर को 15 जिलों की 78 सीटों पर वोटिंग

नोटिफिकेशन : 13 अक्टूबर

नामांकन की अंतिम तारीख: 20 अक्टूबर
स्क्रूटनी – 21 अक्टूबर

नाम वापसी : 23 अक्टूबर तक

चुनाव परिणाम 10 नवंबर

पांच से ज्यादा लोग इस बार नहीं कर सकेंगे प्रचार

कोरोना संकट के चलते भीड़भाड़ इलाके में जाने या फिर भीड़ इकट्ठा करने को लेकर गाइड लाइन जारी की गई है. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि कोरोना की वजह से एक बार में एक साथ पांच से ज्यादा लोग किसी के घर जाकर प्रचार नहीं कर पाएंगे. विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार समेत कुल पांच लोग ही डोर-टू-डोर कैंपेन में हिस्सा लेंगे. उन्होंने बताया कि पार्टियों और उम्मीदवारों को वर्चुअल चुनाव प्रचार करना होगा. कोरोना की वजह से बड़ी-बड़ी जनसभाएं नहीं की जा सकेंगी. इसके अलावा नॉमिनेशन के दौरान किसी भी उम्मीदवार के साथ दो से अधिक गाड़ियां नहीं जा सकेंगे.

चुनाव में सुरक्षा मानकों का रखा जाएगा ख्याल

कोरोना संक्रमण को देखते हुए छह लाख पीपीई किट राज्य चुनाव आयोग को दी जाएंगी. इसके अलावा चुनाव के दौरान 46 से अधिक मास्क दिए जाएंगे. साथ ही हैंड सैनिटाइजर का भी इस्तेमाल किया जाएगा. चुनाव आयोग ने बताया कि जहां पर जरूरत होगी और मांग की जाएगी वहां पोस्टल बैलेट की व्यवस्था की जाएगी. चुनाव प्रचार सिर्फ वर्चुअल होगा और नामांकन भी ऑनलाइन भरे जा सकेंगे.

Input – Live Hindustan

From Around the web