बिहार में हो सकते हैं दो डिप्टी CM, रेस में ये दो नाम चल रहे सबसे आगे

बिहार में नीतीश कुमार को अगला मुख्यमंत्री चुने जाने के बाद सभी की नजर राज्य के अगले डिप्टी सीएम पद पर लग गई हैं। राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के हालिया ट्वीट के बाद अटकलें लगाई जा रही हैं कि बिहार को इस बार नया डिप्टी सीएम मिलने जा रहा है। वहीं,
 
बिहार में हो सकते हैं दो डिप्टी CM, रेस में ये दो नाम चल रहे सबसे आगे

बिहार में नीतीश कुमार को अगला मुख्यमंत्री चुने जाने के बाद सभी की नजर राज्य के अगले डिप्टी सीएम पद पर लग गई हैं। राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के हालिया ट्वीट के बाद अटकलें लगाई जा रही हैं कि बिहार को इस बार नया डिप्टी सीएम मिलने जा रहा है। वहीं, सूत्रों की मानें तो बिहार में इस बार दो डिप्टी सीएम बनाए जा सकते हैं। इस रेस में सबसे आगे बिहार बीजेपी के नेता तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी आगे चल रही हैं।

बिहार की कटिहार सीट से जीत दर्ज करके विधायक बने तारकिशोर प्रसाद को रविवार को बीजेपी विधानमंडल दल का नेता चुना गया है। इसके अलावा, रेणु देवी को बीजेपी विधायक दल का उपनेता चुना गया। पत्रकारों के साथ बातचीत में तारकिशोर ने कहा कि मुझे जो जिम्मेदारी दी गई है, उसे मैं अपनी क्षमता के अनुसार पूरी निष्ठा के साथ निभाऊंगा। हालांकि, राज्य के डिप्टी सीएम को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने साफ-साफ उत्तर नहीं दिया। तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि इस बारे में मैं कोई कमेंट नहीं करना चाहता हूं।

बीजेपी नेता रेणु देवी ने क्या कहा?

वहीं, एक निजी चैनल से बातचीत में रेणु देवी ने भी कहा है कि पार्टी ने जो भी जिम्मेदारी सौंपी है, उसे वह पूरी तरह से निभाएंगी। रेणु देवी को बीजेपी विधानमंडल की नई उपनेता बनाया गया है। उन्होंने कहा, ”पार्टी ने एक कार्यकर्ता को जिम्मेदारी दी है। नीतीश कुमार के नेतृत्व में हम काम करते रहेंगे। कार्यकर्ता का काम जनता की सेवा करना होता है।”

सुशील मोदी के ट्वीट के क्या मायने?

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी के ट्वीट के बाद यह अटकलें लगनी शुरू हो गईं कि वे अगले डिप्टी सीएम नहीं होंगे। सुशील मोदी ने रविवार को ट्वीट कर कहा कि उन्हें बीजेपी और संघ परिवार से बहुत कुछ मिला है और एक कार्यकर्ता का पद उनसे कोई छीन नहीं सकता। सुशील मोदी ने ट्वीट किया, ”भाजपा एवं संघ परिवार ने मुझे ४० वर्षों के राजनीतिक जीवन में इतना दिया की शायद किसी दूसरे को नहीं मिला होगा।

आगे भी जो जिम्मेवारी मिलेगी, उसका निर्वहन करूँगा।कार्यकर्ता का पद तो कोई छीन नहीं सकता।” इससे पहले एक अन्य ट्वीट में सुशील मोदी ने कहा कि तारकिशोर जी को भाजपा विधानमंडल का नेता सर्वसम्मति से चुने जाने पर कोटिशः बधाई।

From Around the web