नीतीश के ‘निश्चय’ में हुआ छेद, स्वीच ऑन करते ही मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट कि खुल गई सुशासन की पोल

सीएम नीतीश कुमार का निश्चय एक बार फिर से धड़ाम हो गया.मोटर जैसे ही ऑन किया गया कि मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट की हककीत से पर्दा उठ गया और सुशासन की पोल खुल गई.हम बात कर रहे हैं ‘सात निश्चय’ योजना की,जिसे नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट कहा जाता है. सीएम नीतीश का निश्चिय इसलिए
 
नीतीश के ‘निश्चय’ में हुआ छेद, स्वीच ऑन करते ही मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट कि खुल गई सुशासन की पोल

सीएम नीतीश कुमार का निश्चय एक बार फिर से धड़ाम हो गया.मोटर जैसे ही ऑन किया गया कि मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट की हककीत से पर्दा उठ गया और सुशासन की पोल खुल गई.हम बात कर रहे हैं ‘सात निश्चय’ योजना की,जिसे नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट कहा जाता है. सीएम नीतीश का निश्चिय इसलिए भी कहा जाता है कि चूंकि वे इस योजना का जिक्र अपनी हर सभा में करते हैं.

इस बार मोतिहारी में सीएम नीतीश के निश्चय में छेद हुआ है. सीएम नीतीश पटना से ड्रीम प्रोजेक्ट नल जल योजना का पूरे बिहार के पंचायत-नगर पंचायत में ऑनलाइन उद्घाटन करने में लगे थे . उसी वक्त पूर्वी चंपारण जिला के मधुबन सवंगिया पंचायत के वार्ड 03 में सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट नल-जल योजना की हवा निकल गई.

उधर सीएम ने उदघाटन किया इधर टावर पर लगा टंकी ही ध्वस्त हो गया .दोपहर में अचानक जलमीनार ही ध्वस्त होकर गिर गया. जलमीनार गिरने की सूचना जंगल में आग की तरह फैल गई .इसकी सूचना मिलते ही एसडीओ ,बीडीओ,डीपीआरओ सहित पदाधिकारी पहुंच जांच में जुट गए .

हालांकि पकडीदयाल एसडीओ ने कहा कि यह बदनाम करने की साजिश है.इस मामले में जांच कर ग्रामीणों पर केस दर्ज किया जाएगा. उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया असमाजिक तत्वों के द्वारा किया गया कार्य दिख रहा है.

बता दें कि इसके पहले भी कई जिलों में टंकी के गिरने की खबर आ चुकी है.कुछ दिन पहले सीएम नीतीश के गृह जिले नालंदा में टंकी गिर गया था.उसका वीडियो भी वायरल हुआ था.तब सरकार की काफी फजीहत हुई थी.

From Around the web