पटना के बाद बिहार के इन 11 जिलों में खुलेंगे 21 नए सीएनजी स्टेशन, देखे जिलो की पूरी लिस्ट

  
cng station in bihar
फेसबुक पर ताजा खबरे पाने के लिए लाइक बटन दबाये!
 

BIHAR NEWS DESK: अच्छी और बड़ी खबर आ रही है बिहार से जहां एक और पूरी दुनिया प्रदूषण की महामारी से जूझ रही है, वहीं बिहार में अब प्रदूषण से निजात पाने के लिए सीएनजी चलित वाहनों को लगातार बढ़ावा देने का प्रयास जारी है. परंतु इसके लिए सबसे बड़ी समस्या है कि सीएनजी स्टेशन बिहार में नहीं है. और इस कड़ी में बिहार सरकार ने एक बड़ा निर्णय लिया है. मिली जानकारी के अनुसार राज्य में प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए बिहार के 11 जिलों में 21 नए सीएनजी स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा.

साथ ही बिहार परिवहन विभाग ने इस संबंध में काम को शुरू भी कर दिया है. वही अनुमान लगाया जा रहा है कि, बिहार के इन 11 जिलों में दिसंबर तक सीएनजी स्टेशन बंद कर पूरी तरह तैयार भी हो जाएंगे. वही एक रिपोर्ट के अनुसार बिहार में इस समय लगभग 10,000 से भी अधिक सीएनजी चालित वाहनों का परिचालन हो रहा है. जो कि एक अच्छा संकेत है वातावरण को लेकर. क्योंकि आपको बता दें कि सीएनजी चालित वाहनों से वायु प्रदूषण का खतरा बहुत ही कम हो जाता है. और लोग इस ग्रीन एनर्जी को लेकर काफी उत्सुक भी है.


और इन सीएनजी चालित वाहनों की बिक्री में भी काफी इजाफा देखने को मिला है. वहीं वहीं सरकार ने सीएनजी चालित वाहनों के प्रति लोगों के रुझान को देखते हुए बिहार के 11 जिलों सीएनजी स्टेशन खोलने का निर्णय लिया है. जिन जिलों में सीएनजी स्टेशंस बिहार सरकार द्वारा खोले जाएंगे वह नीचे निम्नलिखित आपको उपलब्ध कराए गए हैं. क्योंकि कुछ जिलों में एक और कुछ जिलों में दो या तीन भी सीएनजी स्टेशन खोलने के आदेश जारी हो चुके हैं.  दिसंबर तक कैमूर, औरंगाबाद और मुजफ्फरपुर सहित आदि जिलों में 21 नये सीएनजी स्टेशन खुलेंगे.

वहीं इसके बाद पटना में सीएनजी स्टेशन की कुल संख्या बढ़ कर 18 हो जायेगी. बता दे कि इसके तहत औरंगाबाद में 1, कैमूर में 1,रोहतास में 3, भोजपुर में 2, जहानाबाद में 2, समस्तीपुर में 3, वैशाली में 2, सारण में 1, मुजफ्फरपुर में 1, बेगूसराय में 2 और गया में 3 सीएनजी स्टेशन खोले जायेगें.

वही परिवहन विभाग के अनुसार पटना में अभी 12 सीएनजी स्टेशन कार्यरत भी हैं. जबकि बेगूसराय में दो रोहतास, गया और नालंदा में एक- एक सीएनजी स्टेशन अभी कार्यरत हैं. बिहार सरकार इसी तरह विकास के कार्यों में रुचि दिखाती रहेगी तो, उम्मीद है कि आने वाले समय में बिहार में बहुत सारे नए सीएनजी स्टेशन हमें देखने को मिलेंगे. जो कि बिहार में वायु प्रदूषण को रोकने में काफी मौका साबित होगी.

From Around the web