बिहार परिवहन विभाग ने 43 CNG मिनी बसों को दी हरी झंडी, पटना होगा प्रदुषण मुक्त

  
Bihar CNG Bus
फेसबुक पर ताजा खबरे पाने के लिए लाइक बटन दबाये!

बिहार न्यूज़ डेस्क: बड़ी खबर आ रही है बिहार की राजधानी पटना से, जहाँ एक और प्रदुषण सिर्फ बिहार ही नही बल्कि वैश्विक देशो को भी चिंतित कर रही है. वही अब बिहार सर्कार ने एक और अच्छा कदम प्रदुषण को कम करने के लिए उठाया है. अब पटना शहर में दौड़ रही डीजल बसों से प्रदूषण जहर नहीं निकलेगा. डीजल वाली मिनी बसों की जगह CNG बसें ले लेंगी.

परिवहन विभाग ने पटना नगर निगम क्षेत्र में चल रही निजी मिनी डीजल बसों की जगह CNG बसों को चलाने का निर्णय लिया है. इसके लिए निजी डीजल मिनी बसों को नए सीएनजी मिनी बसों में कनवर्ट करने के लिए आए 50 आवेदनों में से 43 का चयन जिला स्तरीय चयन समिति ने किया है. नई CNG बसों का परिचालन नगर सेवा के निर्धारित रूटों पर किया जाएगा. हर बस एक रंग एक ही डिजाइन होंगी.

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल का कहना है कि पटना नगर निगम क्षेत्र में चल रही 50 निजी डीजल मिनी बसों को नए सीएनजी बसों से कनवर्ट करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था. इसके लिए विभाग द्वारा 28 अक्टूबर तक आवेदन आमंत्रित किए गए थे. इसमें 50 में 43 का चयन किया गया है एवं शेष 7 बसों के लिए पुनः आवेदन मांगा गया है. पटना नगर निगम क्षेत्र में चल रहे निजी डीजल मिनी बसों को नए सीएनजी मिनी बसों से बदलने पर अनुदान के लिए 31 दिसंबर तक आवेदन कर सकते हैं.

पटना नगर निगम क्षेत्र में डीजल से चलने वाली निजी मिनी बसों की जगह नए सीएनजी मिनी बसों की खरीद के लिए अधिकतम प्रति बस 7.50 लाख रुपए का अनुदान दिया जा रहा है. परिवहन सचिव का कहना है कि CNG बसें एक कलर और एक डिजाइन की होगी. हर सीएनजी बसें 24 सीटर की है. निजी डीजल मिनी बसों को नए सीएनजी मिनी बसों से प्रतिस्थापन संबंधित स्वीकृति पत्र का वितरण जिला स्तर पर किया जाएगा. इसके लिए जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है.

From Around the web