बिहार को अब मिलेगी बाढ़ से राहत: त: 882 करोड़ की लागत से इस नदी पर बनेगा 1200 कि.मी. लम्बा बांध

 
New Dam in Bihar River

BIHAR DESK: खबर आ रही है बिगर से, जहाँ प्रत्येक वर्ष बिहार को बाढ़ की त्रासदी का सामना करना पड़ता है. और वही ग्लोबल वार्मिंग की वजह भी उनमे से एक है. और बिहार में हरेक वर्ष बाढ़ में बढ़ोत्तरी ही होती जा रही है. और ऐसे में बिहार राज्य सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है.

जिमसे खबरों की माने तो बिहार सरकार 1200 किलोमीटर लम्बा तटबंध बनाने की तैयारी में है. वही अगर आप बिहार से है तो आपको पता ही होगा की बिहार में जो भी नदिया बहती है. उन सभी नदियों में बरसात के मौसम में पानी कह्त्र के निशान से उपर ही बहती है. और ऐसे में बिहार के लगभग इलाको में बाढ़ जैसे हालात बन जाते है.

इसे भी जरा पढ़े - सौरमंडल का सबसे रहस्यमयी और विशाल गृह आज आएगा पृथ्वी के करीब, जाने क्या होगा?

तो बिहार को अब बाढ़ से निजात दिलाने के लिए अब बिहार सरका ने एक पहल ही है. वही मिली जानकारियों के अनुसार इस 1200 किलोमीटर शानदार तटबंध के निर्माण हो जाने के बाद सिमांचल के साथ-साथ पूर्वोत्तर के बड़े हिस्से को भयंकर बाढ़ से निजात मिल जाएगा. जो जानाकरी हमे प्राप्त हुआ है इसके अनुसार यह 1200 किलोमीटर लम्बा बांध महानंदा बेसिन नदी पर बनाने की तैयारी में बिहार राज्य सरकार है.

वही जल संसाधन विभाग ने इस सम्बन्ध में कार्य की योजना बनाना शुरू कर दिया गया है. वही मिली जानकारी के अनुसार जितनी जल्द हो इसके इस बांध को बनाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा. खबरों की माने तो इस 1200 किलोमीटर लम्बे बांध को कुल 5 चरणों में बनाया जाएगा. और इस परियोजना के लिए महानंदा बाढ़ प्रबंधन योजना फेज-1 व फेज-2 के लिए 882 करोड़ की योजना स्वीकृत की गयी है. 

वही फेज-1 के तहत महानंदा बेसिन के निचले हिस्से में पूर्व से निर्मित 95 किलोमीटर तटबंध को मजबूत किया गया है. और इसके साथ ही फेज-2 के तहत महानंदा, रतवा व नागर नदियों पर लगभग 200 किलोमीटर तटबंध का निर्माण किया जाना है. जानकारी के अनुसार इस प्रकार ही फेज-3, फेज-4 और फेज-5 में 1000 किलोमीटर नये तटबंधों का निर्माण किया जाएगा. बता दे किसके साथ साथ बागमती बाढ़ प्रबंधन योजना के तहत बागमती नदी पर 246 किलोमीटर नया तटबंध बनाया जाएगा. इसके अलावा 335 किलोमीटर पूर्व बने तटबंधों को ऊंचा किया जाएगा.

From Around the web