बिहार में आज होगा अहम फैसला! लगेगा लॉकडाउन या होगा नाईट कर्फ्यू

BIHAR DESK: बिहार में लगातार मिल रहे कोरोना संक्रमितों की संख्या को देखते हुए सरकार शनिवार को महत्वपूर्ण फैसले ले सकती है. वर्चुअल मोड में राज्यपाल फागू चौहान की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक होगी. इसमें हर विकल्प पर चर्चा होगी. इधर कोरोना के बेतहाशा बढ़ते आंकड़े ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है. शुक्रवार शाम
 
बिहार में आज होगा अहम फैसला! लगेगा लॉकडाउन या होगा नाईट कर्फ्यू

BIHAR DESK: बिहार में लगातार मिल रहे कोरोना संक्रमितों की संख्‍या को देखते हुए सरकार शनिवार को महत्‍वपूर्ण फैसले ले सकती है. वर्चुअल मोड में राज्‍यपाल फागू चौहान की अध्‍यक्षता में सर्वदलीय बैठक होगी. इस‍में हर विकल्‍प पर चर्चा होगी. इधर कोरोना के बेतहाशा बढ़ते आंकड़े ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है.

शुक्रवार शाम मुख्‍यमंत्री ने अधिकारियों के साथ बचाव समेत अन्‍य विकल्‍पों पर विस्‍तार से चर्चा की. शुक्रवार को 6,252 पॉजिटिव मिले तो 13 मरीजों की मौत भी हो गई. एनएमसीएच के कोविड समर्पित अस्पताल होते ही यहां की चिकित्सा व्यवस्था में कई परिवर्तन होंगे. इसके लिए अस्पताल प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग से चार करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की मांग की है.

अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह ने बताया कि गत वर्ष दो करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे. लेकिन 31 मार्च तक अधिकांश राशि लौट गयी. मरीजों की संख्या अत्यधिक बढऩे की संभावना को देखते हुए 100 अतिरिक्त डॉक्टर, नर्स, डाटा इंट्री ऑपरेटर, टेक्नीशियन से लेकर कर्मी तक की मांग स्वास्थ्य विभाग से की गई है. अधीक्षक ने बताया कि मांग की एक लंबी सूची भेजी गयी है.

प्रदेश में कोरोना रोज रिकॉर्ड तोड़ रहा है! राज्य में नए संक्रमित मिलने के साथ सक्रिय मामलों की संख्या 33 हजार को पार कर 33,465 हो गई है. डॉक्‍टरों का कहना है कि पिछले साल की तुलना में कोरोना के नए स्ट्रेन की संक्रमण क्षमता अधिक है. यही कारण है कि एक व्यक्ति के संक्रमित होने से पूरा परिवार चपेट में आ जा रहा है.

अभी तक शोध एजेंसियों से मिले फीडबैक के आधार पर नया स्ट्रेन पिछली बार के स्ट्रेन से कम घातक है. संक्रमण क्षमता अधिक होने के कारण डरने या परेशान होने की बात नहीं है. सकारात्मक सोच और संतुलित आहार से कोरोना संक्रमण को आसानी से हराया जा सकता है. यह कहना है एम्स पटना के डीन डॉ. उमेश भदानी का.

From Around the web