बिहार समेत देशभर में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन टेस्ट आज से शुरू

Corona in Ramnagar
Loading...

ताजा खबर पाने के लिए निचे लाइक बटन दबाये

बिहार के तीन शहरों में कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) किया जाएगा. स्वास्थ्य विभाग ने पटना, जमुई व पश्चिम चंपारण जिले के बेतिया में कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास कराने का निर्णय लिया है. शनिवार को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देश पर बिहार के तीन शहरों का चयन टीकाकरण के पूर्वाभ्यास के लिए किया गया है.

स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पटना के तीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों व अस्पताल में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा. इनमें फुलवारीशरीफ अस्पताल, दानापुर अनुमंडलीय अस्पताल व शास्त्रीनगर अस्पताल शामिल हैं. पश्चिम चंपारण के बेतिया के पीएचसी, चनपटिया, पीएचसी, मझौलिया व बेतिया शहरी अस्पताल तथा जमुई के बहुद्देशीय स्कूल, जमुई, प्लस टू स्कूल, जमुई और ऑक्सफोर्ड स्कूल, जमुई में पूर्वाभ्यास किया जाएगा. इसके लिए इन अस्पतालों में कोरोना टीकाकरण को लेकर सभी सुविधाओं से युक्त टीकाकरण केंद्र (इम्यूनाइजेशन बूथ) बनाए गए हैं.

सभी व्यवस्था होंगी सिर्फ कोरोना वैक्सीन नहीं होगा

कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास में टीकाकरण को लेकर सभी व्यवस्था मौजूद रहेंगी, सिर्फ कोरोना वैक्सीन नहीं होगा. टीकाकरण के लिए आने वाले चिह्नित लोगों के साथ टीका दिये जाने का पूर्वाभ्यास किया जाएगा. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पहले चरण में टीकाकरण को लेकर जिन लोगों की सूची तैयार की गयी है, उसे वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा. बिहार में पहले चरण में सरकारी एवं निजी क्षेत्र के स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण होना है. इसके लिए कोरोना टीका लगाने वाले सभी डॉक्टरों, नर्सों व पारा मेडिकलकर्मियों की सूची तैयार की गयी है. इन सभी नामों का निबंधन किया जा रहा है.

मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के निर्देशन में पूर्वाभ्यास

अस्पताल के मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के निर्देशन में पूर्वाभ्यास होगा. इसके लिए पहले ही राज्य के सात हजार टीकाकर्मियों को टीका लगाने का प्रशिक्षण दिया जा चुका है. कोरोना टीकाकरण को लेकर उनके द्वारा सुबह से ही तैयारी रखी जाएगी, ताकि केंद्र पर आने वाले व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा सके.

प्रतीक्षा कक्ष, टीकाकरण रूम और निगरानी कक्ष की व्यवस्था

प्रत्येक टीकाकरण केंद्र पर प्रतीक्षा कक्ष, टीकाकरण रूम और निगरानी कक्ष की व्यवस्था की गयी है. प्रतीक्षा कक्ष में टीकाकरण के लिए आने वाले व्यक्तियों को अपनी बारी का इंतजार करना होगा. इसके बाद टीकाकरण रूम में कोरोना का टीका दिया जाएगा. इसके बाद अगले 30 मिनट तक निगरानी कक्ष में कोरोना टीका लगाने वाले व्यक्ति में होने वाले संभावित परिवर्तनों को देखा जाएगा.

पूर्वाभ्यास को लेकर टीमों का गठन किया गया

राज्य में कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास को लेकर टीमों का गठन हो चुका है. आधारभूत संरचना भी तैयार है. इसके लिए तैयारियां अंतिम चरण में हैं. सभी संबंधित जिलों के जिलाधिकारी, स्वास्थ्यकर्मियों और अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ ही पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गई है. अच्छे परिणाम के लिए परिवहन व्यवस्था के लिए भी समन्वय के निर्देश दिए गए हैं. व्यापक पैमाने पर चलाए जाने वाले इस अभियान में गैरसरकारी संगठन भी टास्क फोर्स के अंग हैं.

पूर्वाभ्यास के दौरान परखी जाएगी तैयारी

कोरोना वैक्सीन के पूर्वाभ्यास के दौरान टीका के भंडारण, उसकी ढुलाई के इंतजाम, टीकाकरण के दौरान भीड़ प्रबंधन (क्राउड मैनेजमेंट), सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) के इंतजाम परखे जाएंगे. बताया जाता है कि पूर्वाभ्यास के परिणाम के आधार पर टीकाकरण का अभियान चलाया जाना है.

News Source – Live Hindustan

Loading...

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.
x