बिहार के सासाराम में शैक्षणिक संस्थान बंद करने पर कोचिंग छात्रो का उपद्रव! हुआ लाठी चार्ज

Loading...

ताजा खबर पाने के लिए निचे लाइक बटन दबाये

BIHAR DESK: बिहार में कोरोना सेकेंड वेव में बढ़ते कोविड-19 केस को देखते हुए बिहार सरकार के तमाम निजी और सरकारी स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने के आदेश के खिलाफ सासाराम में स्टूडेंट्स सड़क पर उतरे. कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर जारी गाइडलाइन के खिलाफ शहर के कोचिंग संस्थान के स्टूडेंट्स ने सड़क पर तोड़फोड़ की.

इस दौरान छात्रों ने गौरक्षणी मुहल्ले में कई वाहनों के शीशे भी तोड़ डाले. इसके बाद सभी छात्र जिला समाहरणालय और कोर्ट के बाहर पहुंचकर वहां भी उपद्रव किया. उपद्रवियों को हटाने को लेकर पुलिस ने हवाई फायरिंग की है. पुलिस ने उपद्रवी छात्रों को पीछे धकेलने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल किया है.

घटनास्थल पर डीएम और एसपी पहुंचकर तनाव को कम करने की कोशिश कर रहे हैं. घटना से शहर में अफरा तफरी और तनावपूर्ण माहौल है. घटना को देखते हुए शहर की दुकानें बंद कर दी गई है.

बता दें कि इससे पहले शैक्षणिक संस्थानों को बंद किये जाने से कोचिंग एसोसिएशन ऑफ बिहार ने रविवार को आक्रोश जाहिर किया था. सरकार के फैसले से नाराजगी जाहिर करते हुए कहा गया कि शिक्षण संस्थान नियमों का पालन करते हुए सब कुछ कर रहे हैं.

बावजूद सरकार हमेशा शैक्षणिक संस्थानों को टारगेट कर रही है. इससे बिहार की शिक्षा समाप्त हो जाएगी. कोचिंग एसोसिएशन ऑफ़ भारत (बिहार )के तत्वावधान में रविवार को बैठक हुई. इसमें पटना, दानापुर से लेकर फतुहा से आए सैकड़ो शिक्षकों ने एक स्वर में सरकारी फरमान के खिलाफ नाराजगी व्यक्त करते हुए यह संकल्प लिया है कि छात्रों के हितों की रक्षा के लिए कोचिंग संस्थान खुले रखेंगे.

Loading...

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.
x