बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि IPL-13 की टाइटल स्पॉन्सरशिप की दौड़ में शामिल

Ramdev's Patanjali in IPL 13th Sponsor Race
Loading...
Mints of India Google News

MOI DESK : इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन के लिए टाइटल स्पॉन्सर की दौड़ में कई कंपनियों के नाम सामने आ रहे हैं. VIVO के हटने के बाद अब योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि (Patanjali) भी टाइटल स्पॉन्सर बनने की दौड़ में शामिल हो गई है. पंतजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने इस बात की पुष्टि भी कर दी है.

तिजारावाला ने कहा, ‘हम इस साल IPL की टाइटल स्पॉन्सरशिप के बारे में सोच रहे हैं, क्योंकि हम पतंजलि ब्रांड को एक वैश्विक मंच पर ले जाना चाहते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि, वह भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को इसके लिए एक प्रस्ताव भेजने की तैयारी कर रहे हैं. बाजार के जानकार हालांकि इस बात को मानते हैं कि एक चीनी कंपनी के विकल्प के दौर पर एक राष्ट्रीय ब्रांड के तौर पर पंतजलि का दावा बहुत मजबूत है. लेकिन उनका यह भी मानना है कि, उसमें एक मल्टीनैशनल ब्रांड के तौर पर स्टार पावर की कमी है.

कंपनियां 14 अगस्त तक कर सकती हैं आवेदन

वहीं ऑनलाइन शॉपिंग दिग्गज कंपनी एमेजॉन, टाटा ग्रुप, अडानी ग्रुप, जियो, फैंटसी स्पोर्टस कंपनी ड्रीम 11, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, टीम इंडिया की जर्सी स्पॉन्सर और ऑनलाइन लर्निंग कंपनी बायजूज भी IPl 2020 का टाइटल स्पॉन्सर बनना चाहती हैं. BCCI ने IPL 2020 के टाइटल स्पॉन्सरशिप राइट्स के लिए 10 अगस्त से एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EOI) मांगे हैं. इच्छुक कंपनियां 14 अगस्त तक अपने आवेदन भेज सकती हैं.

VIVO ने पिछले हफ्ते छोड़ी थी टाइटल स्पॉन्सरशिप

बता दें कि, भारत और चीन के बीच विवाद के चलते चीनी मोबाइल फोन निर्माता कंपनी VIVO ने पिछले हफ्ते IPL 2020 के लिए टाइटल स्पॉन्सरशिप से अपना नाम वापस ले लिया था. BCCI ने भी शनिवार यानी 8 अगस्त को इस पर मुहर लगा दी थी. VIVO टाइटल स्पॉन्सशिप के लिए हर साल BCCI को 440 करोड़ रुपये का भुगतान करता है. कोरोनावायरस महामारी के चलते इस समय बाजार की हालत अच्छी नहीं है. इसलिए BCCI भी समझता है कि, एक साल के लिए कोई नई कंपनी शायद ही VIVO जितना भुगतान कर पाए.

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.