महानवमी पर अखिलेश यादव ने दी रामनवमी की बधाई: अखिलेश के ट्वीट पर BJP ने ली चुटकी

 
Akhilesh yadav wrong tweet on mahanavami
फेसबुक पर ताजा खबरे पाने के लिए लाइक बटन दबाये!
 

Uttar Pradesh News Desk: उत्‍तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर नेताओं और राजनीतिक दलों के बीच ऐसी सियासी जंग छिड़ी हुई है कि कब कौन सी बात मुद्दा बन जाए और किस एक शब्‍द पर बवाल मच जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता.

ताजा मामला गुरुवार को अखिलेश यादव और भाजपा के बीच छिड़े 'महानवमी है या रामनवमी' विवाद का है. दरसअल, अखिलेश यादव ने प्रदेश की जनता को शुभकामना देने के लिए एक ट्वीट किया, अब इस ट्वीट को लेकर भाजपा ने उन पर ऐसा निशाना साधा है कि हर किसी का ध्‍यान इस ओर जा रहा है. 


लेकिन तब तक भाजपा को वार करने का मौका मिल चुका था. उत्‍तर प्रदेश भाजपा की ओर से अधिकारिक ट्विटर हैंडल पर अखिलेश के ट्वीट को टैग करते हुए लिखा गया-'जिस अखिलेश यादव को यह तक नहीं पता कि रामनवमी और महानवमी में क्या अंतर है, वो 'राम' और 'परशुराम' की बात करते हैं... जनता को मत पहनाइए 'टोपी', वह आप पर ज्यादा अच्छी लगती है...'.

इस विवाद पर भाजपा नेता अमित मालवीय ने मीडिया से कहा कि रामनवमी तो चैत्र मास मे आती है. शारदीय नवरात्र में तो महानवमी होती है. यह तो मां दुर्गा की अराधना का दिन है. इसके बाद दशहरा आता है. उन्‍होंने कारसेवकों पर गोली चलाए जाने की याद दिलाते हुए कहा कि ऐसा करने वाले चुनाव आते ही हिंदू होने का ढोंग करने लगते हैं.

From Around the web