पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर सके नारायणसामी

पुडुचेरी: पुडुचेरी में कांग्रेस (Congress) का भविष्य निर्धारित करने के लिए एक दिन का विशेष सत्र सोमवार सुबह शुरू हो गया है| मुख्यमंत्री वी नारायणसामी (V Narayanasamy) ने सदन में विश्वास मत प्रस्ताव पेश किया| इस दौरान मुख्यमंत्री ने सदन को बताया कि उनकी सरकार के पास बहुमत है| हालांकि बाद में नारायणसामी की सरकार
 
पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर सके नारायणसामी

पुडुचेरी: पुडुचेरी में कांग्रेस (Congress) का भविष्य निर्धारित करने के लिए एक दिन का विशेष सत्र सोमवार सुबह शुरू हो गया है| मुख्यमंत्री वी नारायणसामी (V Narayanasamy) ने सदन में विश्वास मत प्रस्ताव पेश किया| इस दौरान मुख्यमंत्री ने सदन को बताया कि उनकी सरकार के पास बहुमत है|

हालांकि बाद में नारायणसामी की सरकार ने विश्‍वास मत के दौरान बहुमत खो दिया है| वहीं विश्‍वास मत पेश करने से पहले उन्‍होंने पूर्ण राज्‍य की मांग की| साथ ही पूर्व उप राज्‍यपाल किरण बेदी (Kiran Bedi) और बीजेपी की केंद्र सरकार पर उनकी सरकार गिराने का आरोप लगाया| पुडुचेरी की नवनियुक्त उप राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन ने मुख्यमंत्री वी|

नारायणसामी को विधानसभा में बहुमत साबित करने का निर्देश दिया है| विपक्ष के सत्तारूढ़ कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन के बहुमत खोने का दावा करने के बाद उप राज्यपाल ने यह निर्देश दिया है| कांग्रेस के विधायक के लक्ष्मीनारायणन और द्रमुक के विधायक वेंकटेशन के रविवार को इस्तीफा देने के बाद 33 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन के विधायकों की संख्या घटकर 11 हो गई है, जबकि विपक्षी दलों के 14 विधायक हैं|

पूर्व मंत्री ए. नमसिवायम (अब भाजपा में) और मल्लाडी कृष्ण राव समेत कांग्रेस के चार विधायकों ने इससे पहले इस्तीफा दिया था, जबकि पार्टी के एक अन्य विधायक को अयोग्य ठहराया गया था| नारायणसामी के करीबी ए जॉन कुमार ने भी इस सप्ताह इस्तीफा दे दिया था|

From Around the web