सीएम योगी के दौरे के अगले ही दिन कैराना के 'खौफ' फुरकान किया सरेंडर, योगी की चेतावनी का डर

  
Yogi Warning Furkan
फेसबुक पर ताजा खबरे पाने के लिए लाइक बटन दबाये!
 

उत्तर प्रदेश न्यूज़ डेस्क: एक और जहां उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने पिछले 4.5 सालों में पुराने बदमाशों के खौफ से उत्तर प्रदेश को मुक्त करने का काम किया है. वही एक बार फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कैराना दौरे के बाद से बदमाशों में खलबली सी मच गई है. मोहित बता दे कि कैराना का खौफ कहा जाने वाला कुख्यात बदमाश फुरकान अपनी जमानत करवा कर जेल चला गया है. सीएम योगी ने कैराना में अपराधियों द्वारा मारे गए व्यापारियों के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें इंसाफ देने का भी भरोसा दिया था.

कसम आपको बता दें कि अगस्त 2014 में कैराना में सरे बाजार व्यापारी विनोद सिंघल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. और इस हत्या का आरोप कैराना के रहने वाले फुरकान पर लगा था. इसके बाद फुरकान पर लूट हत्या रंगदारी के करीब डेढ़ दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज बताए जा रहे हैं. व्यापारी विनोद की हत्या के बाद फरारी काट रहे फुरकान को ह्यकैराना का खौफह्ण कहा जाने लगा था.

कुछ समय बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. परंतु जमानत पर जेल से छूट कर बाहर भी आया. बताया जा रहा है कि जेल से निकलने के बाद फुरकान ने फिर से व्यापारियों से रंगदारी मांगा रब ने दहशत फैलाने की कोशिश भी की है. इसके चलते डीजीपी द्वारा फुरकान पर ₹50000 का इनाम भी घोषित कर दिया गया था.

मैं गौरतलब है कि 8 अक्टूबर को कैराना पहुंचे सीएम योगी ने कहा था कि पिछले 4.5 साल में हमने इस तरह का माहौल बना दिया है, जिससे अपराधी सिर उठाकर चलने के लायक भी नहीं रहा गया है. जितने भी व्यापारियों या निर्दोष लोगों पर गोलियां चलाई और उसकी छाती में गोली मारकर दूसरे लोग की यात्रा करा दी. उन्हें चेताया था कि यूपी में किसी ने दंगा किया तो दंगाइयों कि आने वाली पीढ़ी या उसका अंजाम अंजाम भुगतेंगी.

From Around the web