अजीबोगरीब मामला: भैंस लेकर थाने पहुंचा किसान, बोला-साहब! भैंस दूध दुहने नहीं देती

  
Mints of India News
फेसबुक पर ताजा खबरे पाने के लिए लाइक बटन दबाये!

मध्यप्रदेश न्यूज़ डेस्क: दोस्तों खबर आ रही है, मध्यप्रदेश से, जहाँ मध्य प्रदेश के भिंड जिले का एक किसान अपनी भैंस को साथ लेकर थाने पहुंच गया और शिकायत की कि उसकी भैंस पिछले कुछ दिनों से दूध नहीं दुहने दे रही है. कृपया दूध दुहने में मेरी मदद करें. पुलिस ने पशु चिकित्सक से बात कर भैंस का दूध दुहने में मदद की. एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी. इस संबंध में शनिवार को नयागांव गांव में पुलिस से मदद मांगने वाले व्यक्ति का एक वीडियो इंटरनेट मीडिया पर सामने आया है.

पुलिस उपाधीक्षक अरविंद शाह ने बताया कि बाबूलाल जाटव (45) नामक ग्रामीण ने शनिवार को नयागांव पुलिस थाने में एक शिकायत दर्ज कराई, जिसमें कहा गया था कि उसकी भैंस पिछले कुछ दिनों से दूध नहीं दुहने दे रही है. शिकायत के करीब चार घंटे बाद किसान अपनी भैंस को लेकर थाने पहुंचा और पुलिस से भैंस का दूध दुहने में मदद मांगी. इसके बाद थाना प्रभारी ने इस संबंध में पशु चिकित्सा से बात कर किसान को कुछ टिप्स बता दिए.

इसके बाद जब ग्रामीण ने जब दूध दुहा तो भैंस ने दूध दुहने दिया. इसके बाद ग्रामीण सुबह फिर पुलिस को धन्यवाद देने के लिए थाने पहुंचा और कहा कि रविवार की सुबह भैंस ने दूध दुहने दिया है. गौरतलब है कि इससे पहले शिवपुरी में पुलिस के सामने एक अनूठा मामला पहुंचा. यहां आठ माह की बच्ची को पड़ोस में किराए से रहने वाले एक व्यक्ति के मुर्गे ने तीसरी बार काटकर घायल कर दिया. इससे आक्रोशित बच्ची रितिका की मां पूनम कुशवाह थाने पहुंच गई. वह बेटी को भी थाने लेकर गई.

इस दौरान वह मुर्गे पर केस दर्ज कराने को लेकर अड़ गई. इसके बाद पड़ोसी मुर्गे को लेकर थाने में पेश हुआ. पूनम ने पुलिस को बताया कि उसकी बेटी की जान पर संकट आ गया है. पड़ोस में रहने वाले पप्पू जाटव के मुर्गे ने उसकी बेटी रितिका को तीसरी बार काटा (चोंच से हमला किया) है. इसलिए मुर्गे के खिलाफ केस दर्ज किया जाए. महिला ने साफ कह दिया कि जब तक केस दर्ज नहीं होगा, वह घर नहीं जाएगी. आनन-फानन में दो पुलिसकर्मी पप्पू के घर भेजे गए और मुर्गे के साथ पप्पू थाने में पेश हुआ.

यहां पप्पू ने स्वीकार किया कि उसके मुर्गे ने रितिका को काटा है. वैसे वह हमेशा जंजीर से बंधा रहता है. जब घटना की जानकारी पप्पू की पत्नी रीना को हुई तो वह भी थाने पहुंची और रोने लगी. उसने कहा कि उसकी कोई औलाद नहीं है, इसलिए वह मुर्गे को ही बेटे की तरह मानकर पाल रही है. मुर्गा नादान है और न जाने कैसे उसने रितिका को काट लिया. आगे से वह उसे बांधकर रखेगी. मुर्गे को छोड़ दिया जाए, चाहे बदले में उसे खुद जेल में डाल दो. सभी की समझाइश पर पूनम मान गई और मुर्गे के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं किया गया.

From Around the web