Air India के सम्पूर्ण मालिक बने टाटा: आसमान में फिर बढ़ा टाटा का दबदबा

 
tata group owned Air India
फेसबुक पर ताजा खबरे पाने के लिए लाइक बटन दबाये!
 

NEWS DESK: खबर आ रही है एयर इंडिया एयरलाइन्स को लेकर. जहाँ कुछ दिनों पहले ही भारत सरकार ने Air India की नीलामी करवाई थी. जिसमे टाटा ने सबसे ज्यादा 18 हजार करोड़ की बोली लगाई थी. और इसके बाद अब भारत सरकार ने इस नीलामी को अप्रूव कर दिया है. जिसके बाद अब Air India की कमान Tata समूह के पास आ चुकी है.

पढ़े - पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड चेयरमैन बोले: भारत के प्रधानमंत्री जब चाहे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को बर्बाद देंगे, देखे विडियो

आपकी जानकारी के लिए बता दूं की नमक से सॉफ्टवेयर तक बनाने वाले टाटा समूह के लिए आज यानी 8 अक्टूबर का दिन ऐतिहासिक है. टाटा समूह को करीब 70 साल बाद एक बार फिर एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया की कमान मिली है. आजादी के बाद से ही सरकार के हाथों में रही इस एयरलाइन की घर वापसी के लिए टाटा समूह ने 18 हजार करोड़ रुपए की बोली लगाई थी.


किस एयरलाइन में कितनी हिस्सेदारी: टाटा समूह को एयर इंडिया में शत प्रतिशत हिस्सेदारी मिली है. वहीं, विस्तारा एयरलाइन, टाटा संस प्राइवेट लिमिटेड और सिंगापुर एयरलाइंस लिमिटेड (एसआईए) का एक ज्वाइंट वेंचर है. इसमें टाटा संस की 51 फीसदी हिस्सेदारी है तो सिंगापुर एयरलाइन का स्टेक 49 फीसदी है. अगर एयर एशिया की बात करें तो इसमें टाटा संस की हिस्सेदारी 83.67 फीसदी है.

पढ़े - KKR ने RR को 86 रनों से हराया: केकेआर की प्लेऑफ में जगह लगभग पक्की, देखे नया पॉइंट्स टेबल

दरअसल, साल 2013 में मलेशियाई एयरलाइंस कंपनी एयर एशिया बेरहाद और टाटा संस के ज्वाइंट वेंचर ने एयर एशिया की शुरुआत की थी. तब भी टाटा संस का हिस्सा 51 फीसदी था.  वहीं एयर एशिया बेरहाद की हिस्सेदारी 49 फीसदी थी. बीते साल एयर एशिया बेरहाद ने अपनी 32.67 फीसदी हिस्सेदारी बेच दी, इसके बाद इस एयरलाइन में टाटा समूह की हिस्सेदारी बढ़कर 83.67 फीसदी हो गई है. वाया - लाइव हिंदुस्तान

From Around the web