भारत के इन 3 क्रिकेटर्स का खत्म हो सकता है टेस्ट करियर? काफी समय से गर्दन पर लटकी तलवार

  
crick
फेसबुक पर ताजा खबरे पाने के लिए लाइक बटन दबाये!
 

स्पोर्ट्स न्यूज़ डेस्क: जहां एक और टीम इंडिया में खिलाड़ियों की कमी नहीं है. वहीं दूसरी ओर टीम इंडिया में लगातार कंपटीशन भी बढ़ता जा रहा है. जिससे आने वाले दिनों में कुछ बड़े क्रिकेटर का क्रिकेट करियर खत्म हुई होने की संभावनाएं जताई जा रही है. युवाओं के रहते जल्द बड़े फैसले लिए जा सकते हैं क्योंकि जिससे टीम के लिए इंडिया में अभी से तैयारी होने लगेगी. आपको बता दें कि न्यूजीलैंड के खिलाफ 25 नवंबर से शुरू होने वाले दो मैचों की टेस्ट सीरीज श्रेयस अय्यर, पीएस भरत और प्रसिद्ध कृष्ण जैसे युवा खिलाड़ियों को भी मौका मिला है.

जहां एक और हर क्रिकेटर की तमन्ना होती है कि वह अपने देश के लिए क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में खेले. परंतु यह सपना बहुत ही कम खिलाड़ियों का पूरा हो पाता है. भारत के लिए विराट कोहली और रोहित शर्मा इसके सबसे बड़े उदाहरण में से एक हैं. नीचे मैंने 3 खिलाड़ियों के नाम बताए हैं. और इन तीन खिलाड़ियों पर टीम इंडिया में जगह को लेकर खतरा मंडरा रहा है.

अजिंक्य रहाणे

जैसा कि आपको पता ही होगा कि भारतीय क्रिकेट में अजिंक्य रहाणे बड़े खिलाड़ी के रूप में जाने जाते हैं. जीना टीम इंडिया के लिए सभी फॉर्मेट में क्रिकेट खेली है. 2011 में डेब्यू करने वाले रहा ने ने भारत के लिए 90 वनडे और 20 T20 मैच शिरकत की है. लेकिन इस समय मैं इस खिलाड़ी को टेस्ट स्पेशलिस्ट के तौर पर ही देखा जाता है. रानी क्वेश्चन करता लगभग हर टेस्ट में खेलने का मौका देते हैं. लेकिन वनडे T20 अनदेखी की जाती है. आपको बता दें कि t20 क्रिकेट में रहने को 2016 में एक भी मैच में मौका नहीं दिया गया. वही वनडे क्रिकेट में भी उन्हें 2018 से टीम इंडिया में जगह नहीं दी गई. लगता है कि रहा ने अब शायद ही वनडे क्रिकेट में T20 क्रिकेट खेलते हुए नजर आएंगे.

इशांत शर्मा

वहीं सीनियर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने अपने कैरियर की शुरुआत 2007 में की थी और बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट मैच में इसकी शुरू की उसके अगले ही महीने इशांत शर्मा को वनडे में डेब्यू करने का मौका भी मिला. ईशांत अब तक 80 वनडे मैच खेल चुके हैं, जिसमें वो 115 विकेट चटकाने में सफल रहे हालांकि टी20 क्रिकेट में शर्मा इतने सफल नहीं रहे. ईशांत का वनडे करियर देखा जाए तो अच्छा कहा जा सकता है, लेकिन चयनकर्ताओं ने इन्हें 2016 से एक भी वनडे मैच में खेलने का मौका नहीं दिया है. टीम इंडिया में लगातार कॉम्पिटिशन बढ़ रहा है. सिराज जैसे गेंदबाज टेस्ट फॉर्मेट में अच्छा कर रहे हैं. ऐसे में टीम इंडिया से इशांत शर्मा का पत्ता कट सकता है. 

ऋद्धिमान साहा

ऋद्धिमान साहा के साथ एक समस्या ये रही कि जब तक एमएस धोनी क्रिकेट में बन रहे ऋद्धिमान साहा को कभी वनडे या टी20 क्रिकेट में ज्यादा मौके नहीं मिले, यहां तक कि धोनी के संन्यास लेने के बाद ही इस खिलाड़ी को टेस्ट क्रिकेट में खेलने का मौका मिल पाया. सीनियर विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) का टेस्ट करियर अब पंत की वजह से लगभग खत्म हो रहा है. साहा धोनी के टेस्ट क्रिकेट से रिटायर होने के बाद लगातार टीम में विकेटकीपर के तौर पर खेलते थे. लेकिन जैसे ही पंत ने टीम में अपनी जगह बनाई तभी से साहा को बहुत कम मौके मिल पाए हैं. ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) को अब फिर से टीम इंडिया में मौका मिल पाना काफी मुश्किल है.

From Around the web