माघ अमावस्या के दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय

Goddess Lakshmi
Loading...
Mints of India Google News

माघ कृष्ण अमावस्या यानी मौनी अमावस्या को हिंदू धर्म में बेहद खास माना जाता है. मान्यता है कि मौनी अमावस्या के दिन स्नान और दान से शुभ फलों की प्राप्ति होती है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, इस दिन देवतागण पवित्र संगम में निवास करते हैं, इसलिए इस दिन गंगा स्नान का विशेष महत्व होता है. शास्त्रों के अनुसार, मौनी अमावस्या के दिन मौन रहने वाले व्यक्ति को मुनि पद की प्राप्ति होती है. मौनी अमावस्या के दिन कुछ उपायों से शुभ परिणामों की प्राप्ति होती है.

माघ या मौनी अमावस्या 2021 तिथि और शुभ मुहूर्त

फरवरी 11, 2021 को 01:10:48 से अमावस्या आरम्भ.
फरवरी 12, 2021 को 00:37:12 पर अमावस्या समाप्त.


मौनी अमावस्या के दिन करें ये उपाय

  1. मौनी अमावस्या के दिन चींटियों को शक्कर मिलाकर आटा खिलाना चाहिए. ऐसा करने से पाप-कर्म कम होते हैं और पुण्य-कर्म उदय होते हैं.
  2. मौनी अमावस्या के दिन सुबह स्नान करने के बाद आटे की गोलियां बनाएं. आटे की गोलियों को मछलियों को खिलाना शुभ होता है. ऐसा करने से आपके जीवन की परेशानियों का अंत होता है.
  3. मौनी अमावस्या के दिन कालसर्प दोष से मुक्ति पाने के लिए सुबह स्नान करने के बाद चांदी से बने नाग-नागिन की पूजा करनी चाहिए. इसके बाद सफेद पुष्प के साथ बहते हुए जल में प्रवाहित कर देना चाहिए.
  4. शाम के वक्त घर के ईशान कोण में गाय के घी का दीपक जलाना चाहिए. कहते हैं कि ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं.

मौनी अमावस्या का महत्व

पुराणों के अनुसार, मौनी अमावस्या के दिन मौन रहने का विशेष महत्व होता है. कहते हैं कि ऐसा करने से देवी-देवता प्रसन्न होते हैं. अगर मौन रहना संभव न हो तो माघ अमावस्या के दिन लड़ाई-झगड़े से बचना चाहिए. इसके साथ ही इस दिन कटु वचनों को नहीं बोलना चाहिए.

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.