5 लाख अनुदान के साथ 10 लाख तक का लोन देगी नीतीश सरकार, जानें डीटेल


ताजा खबर पाने के लिए निचे लाइक बटन दबाये

बिहार डेस्क: पिछले ही महीने कैबिनेट से स्वीकृत हुई मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना को 1 जून 2021 से लागू करने की तमाम तैयारियां पूरी कर ली गई हैं| बिहार के युवकों और युवतियों में उद्यमिता को बढ़ावा देने के मकसद से प्रस्तावित इन योजनाओं के तहत अभ्यर्थियों के आवेदन और उसके निष्पादन के लिए ऑनलाइन पोर्टल बनाने का कार्य पूरा कर लिया गया है|

इसके अलावा बिहार में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए पहले से चल रही दो योजनाओं (मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना) के तहत भी नए सिरे से आवेदन मंगाए जाएंगे| यानी पूरे बिहार के युवक-युवतियों के लिए सरकारी सहायता प्राप्त कर स्वरोजगार शुरू करने या उद्योग लगाने के जबरदस्त अवसर उपलब्ध होंगे|

इसे भी पढ़ेबिहार में कोरोना पड़ रहा है कमजोर! संक्रमण दर में कमी और रिकवरी दर में हुई बढ़ोतरी

इन सभी चार योजनाओं को मिलाकर बिहार के सभी वर्ग के युवा-युवतियों के लिए अधिकतम 10 लाख रुपये तक का लोन बिना किसी ब्याज या लगभग न के बराबर ब्याज (सिर्फ 1 प्रतिशत) पर सरकार की तरफ से मुहैया कराया जाएगा| यानी बिहार के नए उद्यमियों के लिए बहुत बड़ा अवसर होगा और आत्मनिर्भर बिहार के लक्ष्य की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी|

आत्मनिर्भर बिहार के सात निश्चय-2 के अंतर्गत स्वीकृत दोनों नई योजनाओं – मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के लिए 200-200 करोड़ रुपए की स्वीकृति भी दे दी गई है| उद्योग विभाग (@IndustriesBihar ) द्वारा संचालित सभी चार उद्यमी योजनाओं के लिए वित्तीय वर्ष 2021 -22 के लिए लक्ष्य दो हजार इकाई का रखा गया है| इसके अलावा राशि व्यय के आधार पर लक्ष्य को बढ़ाया भी जा सकता है|

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.
x