पटना एम्स के डॉक्‍टरों की सलाह, 5 से 15 मई तक हो पूर्ण लॉकडाउन

Patna AIIMS Doctors

ताजा खबर पाने के लिए निचे लाइक बटन दबाये

BIHAR DESK: कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है. स्थिति यह कि राजधानी में हर दिन लगभग दो हजार से 29 सौ के बीच लोग संक्रमित हो रहे हैं. विशेषज्ञ बताते हैं कि अभी संक्रमण का पीक समय नहीं है. गणितीय आंकड़ों के अनुसार, देश में पांच से 15 मई के बीच कोरोना पीक पर होगा. इस समय हर दिन तीन लाख एक्टिव केस मिलने के अनुमान हैं.

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना (All India Institute of Medical Sciences ) के डीन सह एनेस्थिसिया विभागाध्यक्ष डॉ. उमेश भदानी बताते हैं कि स्थिति लगातार बिगड़ रही है, जबकि पीक नहीं है. पांच-15 मई के बीच पीक पर कोरोना को रोकने के लिए सरकार को अभी से कवायद करने की जरूरत है.

यदि संभव हो तो पूर्णत: लॉकडाउन (complete lock down in Bihar ) लगाना चाहिए. यदि ऐसा संभव नहीं तो इंग्लैंड (United Kingdom) मॉडल पर एरिया वाइज पूर्णत: लॉकडाउन (area wise complete lock down) लगाएं. जिस एरिया को लॉकडाउन करना हो, उनमें एक सप्ताह पहले ही अल्टीमेटम दे दिया जाए. वहां मेडिकल शॉप को छोड़ कर सभी को पूर्णत: लॉक कर दिया जाना चाहिए.

तीन सप्ताह तक पूर्ण लॉकडाउन की जरूरत

एम्स मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ. रवि कीर्ति ने बताया कि पीक बहुत खराब होने वाला है. स्वास्थ्य संसाधन मजबूत नहीं है. ऐसे में तीन सप्ताह तक पूर्ण लॉकडाउन की जरूरत है. तभी हम पांच से 15 तक के पीक को खत्म कर सकते हैं अभी लोग संक्रमित होने के बावजूद बगैर सिम्टम बेरोक-टोक आवागमन कर रहे हैं. ऐसे में स्प्रेड को पूरी तरह लॉक करने की जरूरत है.

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.
x