जिस मकान में मिलेगी शराब की खेप, वहां खुलेगा थाना, संपत्ति जब्त कर नीलाम की जाएगी

Loading...

ताजा खबर पाने के लिए निचे लाइक बटन दबाये

BIHAR DESK : बिहार में शराब का कारोबार करने वाले माफियाओं पर सरकार का शिकंजा और कसेगा. बिहार में अब जिस मकान से शराब की खेप बरामद होगी, सरकार उसमें जरूरत के अनुसार पुलिस थाना खोलेगी. राजधानी पटना के एक गोदाम में बड़ी मात्रा में शराब बरामद की गई थी. वहां बाईपास थाना खोलकर राज्य सरकार ने इसकी शुरुआत कर दी है.

यही नहीं, शराब माफियाओं की संपत्ति को जब्त कर उसे नीलाम भी किया जाएगा. बिहार में पूर्ण शराबबंदी को और प्रभावी बनाने के लिए शराब माफियाओं पर मुकदमा दर्ज कर स्पीडी ट्रायल चलाया जाएगा.

सरकार ने सदन में दो टूक कहा कि गोपालगंज शराब कांड के अभियुक्तों को मिली फांसी की सजा उन शराब कारोबारियों के लिए एक संदेश है, जो इस धंधे में लिप्त हैं. इससे यह भी साफ हो गया कि कानून के हाथ लंबे होते हैं. मंगलवार को विधानसभा में मद्यनिषेध उत्पाद एवं निबंधन विभाग के आय-व्ययक पर हुए वाद-विवाद के बाद विभाग की ओर से मंत्री सुनील कुमार उत्तर दे रहे थे.

उन्होंने कहा कि शराबबंदी को और प्रभावी बनाने के लिए 186 पुलिस कर्मियों व आठ उत्पाद कर्मियों को बर्खास्त किया गया है, जो देश के किसी राज्य में नहीं हुआ है. 60 ऐसे पुलिस कर्मी चिह्नित किए गए हैं जो अगले 10 साल तक थाना प्रभारी नहीं बन सकेंगे. आसूचना (खुफिया) तंत्र को मजबूत किया गया. आईजी प्रोविजन का पद सृजित किया गया.

Loading...

Mints of India an Indian E-Media Website. Here We Provide Latest Breaking News Related to Political News in Hindi with All Types of News.
x